• Mon. Jun 17th, 2024

समाचार
कलेक्टर से मिलकर केन्द्रीय अधिकारियों की टीम ने विलेज अटैचमेंट के अनुभव किए साझा

ByNagendra Tandon

Sep 15, 2023
Spread the love

समाचार
कलेक्टर से मिलकर केन्द्रीय अधिकारियों की टीम ने विलेज अटैचमेंट के अनुभव किए साझा
अधिकारियों ने की गोधन न्याय योजना की सराहना
बिलासपुर, 14 सितंबर 2023/ कलेक्टर श्री संजीव कुमार झा से मंथन सभा कक्ष में आज दिल्ली से आये युवा अधिकारियों की टीम ने जिले में उनके विलेज अटैचमेंट के अनुभव साझा किए। सभी अधिकारियों ने एक-एक करके विभिन्न गांव के प्रवास के अपने अनुभव साझा किए ।
कलेक्टर ने प्रशिक्षणार्थी अधिकारियों को छत्तीसगढ़ के बारे में बताते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य को धान का कटोरा कहा जाता है। इसके बारे में आप सभी को गांव में जाने के बाद अनुभव हुआ होगा। यहां के लोग बहुत ही सरल और सहज हैं। यहां शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी काम हुआ है और हो रहा है। अधोसंरचना विकास के साथ रूरल डेव्हलपमेंट के क्षेत्र में भी बहुत काम हुआ है। गांव में स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा रीपा में मध्यम औद्योगिक इकाईयां संचालित है जिसमें कई उत्पाद बनाए जा रहे हैं। इन उत्पादों को सी मार्ट में बाजार उपलब्ध कराने के साथ ही जिले के कई हास्टलों में भी खरीदी की जा रही है। गोधन न्याय योजना राज्य सरकार की एक महत्वपूर्ण फ्लेगशिप योजना है। इसके माध्यम से गोबर बेचकर किसानों एवं पशुपालकों की आमदनी में वृद्धि हुई है। साथ ही गौठान समितियों में वर्मी कम्पोष्ट बनाकर इसका वेल्यूएडिशन किया जा रहा है और जैविक खादों से खेतों में भी अच्छी फसल हो रही है।
कलेक्टर ने कहा कि आज आप सभी कोे विलेज अटैचमेंट के तहत गांव में रहकर नये अनुभव हुआ होगा और कई नई चीजें सीखने को मिली होगी। साथ गांव में केन्द्र एवं राज्य के योजनाओं के क्रियान्वयन एवं वहां की विभिन्न आवश्यकताओं को जानने का मौका मिला है। आप वर्तमान में जिस भी मंत्रालय में हों, वहां इस अनुभव और सीख से सरकार की नई योजना एवं पालिसी के बेहतर इनपुट देकर उनके निर्माण करेंगे। उन्होंने सभी की उज्ज्वल भविष्य की कामना की।
कलेक्टर को प्रशिक्षणार्थी अधिकारियों ने बताया कि गांव के लोगों से मिलकर बहुत अच्छा लगा। गांव में गोधन न्याय योजना एवं रीपा से ग्रामीणों के जीवन स्तर में काफी सुधार आया है। इन योजनाओं उन्हें गांव में ही रोजगार मिल रहा है। रीपा एवं गौठान में समूह की महिलाएं संगठित होकर कार्य कर रही हैं। अधिकारियों ने विभिन्न गांवों के प्रवास के दौरान वहां के शिक्षा, स्वास्थ्य एवं अन्य विभिन्न आवश्यकताओं से भी अवगत कराया।

इस दौरान सीईओ जिला पंचायत श्री अजय अग्रवाल एवं श्री एल के शर्मा संकाय सदस्य एसआईआरडी निमोरा से सहित जिला पंचायत के अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।


Spread the love